शुक्रवार, 3 जनवरी 2014

433. ये साल नया (नव वर्ष पर 6 हाइकु)

ये साल नया
(नव वर्ष पर 6 हाइकु)

*******

1.
सौगात लाया
झोली में भरकर,
ये साल नया !

2.
अतीत छुपा,
नए साल का देख
पिटारा नया !

3.
फिर से खिली
उम्मीदों वाली धूप,
नए साल की !


4.
मधुर आभा
छन-छन के आई,
नई भोर में !

5.
लिपट गई
अतीत की चादर,
बिछड़ा साल !

6.
कुंडी खड़की
स्वागत में खड़ा था, 
नूतन वर्ष ! 

- जेन्नी शबनम (1. 1. 2014)

____________________________

8 टिप्‍पणियां:

Rakesh Kumar ने कहा…

बेहतरीन प्रस्तुति.

नववर्ष शुभ और मंगलमय हो.

बहुत बहुत शुभकामनाएँ.

मेरा मन पंछी सा ने कहा…

सुन्दर हाइकु
नववर्ष कि हार्दिक शुभकामनाएँ...
:-)
http://mauryareena.blogspot.in/

Anupama Tripathi ने कहा…

सुंदर सौगात .....सुंदर हाइकु ...नव वर्ष की शुभकामनायें ....!!

ANULATA RAJ NAIR ने कहा…

नए साल के नए नए हायकू बढ़िया लगे....
नववर्ष मंगलमय हो!

सादर
अनु

धीरेन्द्र सिंह भदौरिया ने कहा…

बहुत सुंदर हाइकू ...!
नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाए...!
RECENT POST -: नये साल का पहला दिन.

Jyoti khare ने कहा…

बहुत सुंदर----
उत्कृष्ट प्रस्तुति
नववर्ष की हार्दिक अनंत शुभकामनाऐं----

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' ने कहा…

बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
--
आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज शनिवार (04-01-2014) को "क्यों मौन मानवता" : चर्चा मंच : चर्चा अंक : 1482 में "मयंक का कोना" पर भी है!
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

Ranjana verma ने कहा…


नए साल के उपलक्ष्य में सुंदर हायकू प्रस्तुति... नए साल के लिए बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएँ ...!!