Sunday, March 1, 2015

487. वासन्ती प्यार (वसंत ऋतु पर 5 हाइकु)

वासन्ती प्यार  
(वसंत ऋतु पर 5 हाइकु)   

******* 

1.  
वासन्ती प्यार    
नस-नस में घुली,   
हँसी, बहार ! 

2.
वासन्ती धुन  
आसमान में गूँजे  
मनवा झूमे ! 

3.
प्रणय पुष्प
चहुँ ओर है खिला  
रीझती फ़िज़ा ! 

4.
मन में ज्वाला 
मरहम लगाती    
वसन्ती हवा ! 

5.
वसन्ती रंग 
छितराई सुगंध  
फूलों के संग ! 

- जेन्नी शबनम (14. 2. 2015)

___________________________