Friday, September 1, 2017

557. सूरज की पार्टी (11 बाल हाइकु)

सूरज की पार्टी  
(11 बाल हाइकु)  

*******

1.  
आम है आया  
सूरज की पार्टी में  
जश्न मनाया!  

2.  
फलों का राजा  
शान से मुस्कुराता  
रंग बिरंगा!  

3.  
चुभती गर्मी  
तरबूज़ का रस  
हरता गर्मी!  

4.  
खीरा-ककड़ी  
लत्तर पे लटके  
गर्मी के दोस्त!  

5.  
आम व लीची  
कौन हैं ज़्यादा मीठे  
करते रार!  

6.  
मुस्कुराता है  
कँटीला अनानास  
बहुत ख़ास!  

7.  
पानी से भरा  
कठोर नारियल  
बुझाता प्यास!  

8.  
पेड़ से गिरा  
जामुन तरो ताज़ा  
गर्मी का दोस्त!  

9.  
मानो हो गेंद  
पीला-सा ख़रबूज़  
लुढ़का जाता!  

10.  
धम्म से कूदा
अँखियाँ मटकाता  
आम का जोड़ा!  

11.  
आम की टोली  
झुरमुट में छुपी  
गप्पें हाँकती!

- जेन्नी शबनम (27. 8. 2017)  

_____________________________

4 comments:

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल रविवार (03-09-2017) को "वक़्त के साथ दौड़ता..वक़्त" (चर्चा अंक 2716) पर भी होगी।
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल रविवार (03-09-2017) को "वक़्त के साथ दौड़ता..वक़्त" (चर्चा अंक 2716) पर भी होगी।
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

Onkar said...

सुन्दर हाइकु

ARUN SATHI said...

सभी उमद